Mahindra Bolero NEO vs Bolero
Mahindra Bolero NEO vs Bolero

Mahindra Bolero NEO vs Bolero: Mahindra Bolero Neo को Mahindra TUV 300 का अपडेटेड मॉडल अगर कभी कह भी दिया जाए, तो इसमें किसी को सन्देह नहीं होगा। यह गाड़ी बंद हो चुकी TUV 300 को Mahindra की लिस्ट में फिर से ले आती है, एक नए नाम से। Mahindra Bolero लंबे समय से भारतीय बाजार में सबसे सफल एसयूवी गाड़ियों में से है। इसकी कहीं भी जाने की क्षमता और एक दमदार mHawk डीजल इंजन ने बोलेरो को सफल बनाने में बिल्कुल भी कमी नहीं छोड़ी है। इस गाड़ी में Bolero नाम इस्तमाल करने के कारण शायद इस एसयूवी को सफल होने में मिल सकती है, मगर यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

Mahindra Bolero NEO vs Bolero

Design

Mahindra Bolero NEO vs BoleroMahindra Bolero Neo काफी हद तक TUV300 जैसी दिखती है। Bolero Neo, Mahindra Bolero की तुलना में ज्यादा प्रीमियम गाड़ी है। गाड़ी के बॉक्सी और अपराइट स्टांस जैसे डिज़ाइन के बावजूद, Bolero Neo नॉर्मल Bolero से तुलना में काफी अलग दिखती है। यह गाड़ी पुरानी Bolero से ज्यादा स्टाइलिश और कूल दिखती है।
जहां पर नॉर्मल Mahindra Bolero की लंबाई 3,995mm, चौड़ाई 1,745mm, ऊंचाई 1,880mm और व्हील बेस 2,680mm है। वहीं पर Bolero Neoमें लंबाई 3,995mm, चौड़ाई 1,795mm, ऊंचाई 1,817mm और व्हील बेस 2,680mm है।

Mahindra Bolero Neo में आपकों आगे की तरफ एलईडी हैडलैंप मिलता जो आपको Bolero में नही मिलता है और यहां पर Bolero Neo के व्हील आर्च थोड़े ज्यादा अच्छे हैं। मगर साइड बॉडी मोल्डिंग, क्लैमशेल बोनट दोनों मॉडलों में एक बराबर हैं।

इसे भी पढ़ें :-  Mahindra Bolero Neo मात्र ₹8.48 लाख से शुरू !

Mahindra Bolero NEO vs Bolero: Features

Mahindra Bolero NEO vs BoleroMahindra Bolero Neo का केबिन Bolero से ज्यादा स्टाइलिश और प्रिमियम है। इसमें डुअल-टोन डैशबोर्ड, हाइट एडजस्टेबल सीट, इलेक्ट्रिकली एडजस्टेबल मिरर, फ्रंट-सीट आर्मरेस्ट, क्रूज़ कंट्रोल, रिमोट लॉकिंग 7.0 इंच टचस्क्रीन, डुअल एयरबैग, एबीएस और कॉर्नर ब्रेकिंग कंट्रोल आदि जैसी चीजे मिलती हैं।

 

दूसरी तरफ़ आपको नॉर्मल Bolero में कुछ ज्यादा फिचर्स नही देखने को मिलते हैं। इस गाड़ी में आपकों वो सब चीजे मिल जाती हैं, जिनकी आपकों रोजाना के कामों में जरूरत पड़ती है। इसमें पावर विंडो, रिमोट लॉकिंग, ऑडियो सिस्टम, डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, ड्राइवर एयरबैग, एबीएस, रिवर्स पार्किंग सेंसर, सीट-बेल्ट रिमाइंडर मिल जाता है।

Engine

Mahindra Bolero NEO vs BoleroMahindra Bolero Neo में आपको 1.5L 3 सिलेंडर डीजल इंजन मिलता 5 स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन के साथ। जो आपको 100 बीएचपी की पावर और 260 एनएम का टॉर्क देता है। तो वही पर नॉर्मल Bolero में आपको 1.5L 3 सिलेंडर डीजल इंजन मिलता जो आपको 76 बीएचपी की पावर और 2100 एनएम का टॉर्क देता है, 5 स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन के साथ।

दोनों ही गाडियां रियर व्हील ड्राइव हैं और लैडर फ्रेम चेसिस पर बनी हैं। मगर Bolero Neo Mahindra के OEM third generation चेसिस पर बनी है।

इसे भी पढ़ें :- Upcoming Cars In India जो मचा देंगी तेहेलका !

दोनों ही गाड़ियां अपनी जगह पर एक बेहतरीन विकल्प हैं। जहां पर Bolero Neo आपकों प्रिमियम फीचर्स और स्पेस देती है, वहीं पर नॉर्मल Bolero अपना रुतुबा और विश्वास देती है कही पर भी जाने का।

 

अगर आप हमसे कुछ पूछना चाहते हैं तो हमारे इंस्टाग्राम पर आएं। गाड़ियों का रिव्यू देखने के लिए अभी सब्सक्राइव करें हमारा चैनल पावर ऑन व्‍हील।