देश इलेक्ट्रिक की तरफ बढ़ने की सिर्फ सोच नहीं बल्कि अब साकार होती वो हकीकत है जिसकी जिम्मेवारी कुछ युवा कंधों ने उठा भी ली है। एक बढ़िया व पोल्यूशन फ्री खबर देश की राजधानी दिल्ली से 14 जनवरी को आई जिसके तहत
Gensol Mobility ने दिल्ली एनसीआर के लिए भारत की पहली 100% इलेक्ट्रिक स्मार्ट कैब फ्लीट को लॉन्च कर दिया। यानी कि अब अगर आप दिल्ली में रहते हैं तो मानकर चलिए कि अब ये विकल्प आपको चुनना है कि आप पांरपरिक ओला-उबर में चलना पसंद करेंगे या उससे सस्ते में एक ऐसी गाड़ी में जिससे कोई पोल्‍यूशन नहीं होगा और आपकी न तो स्पीड थमेगी और न ही लग्जरी में कोई कमी आएगी। बस इस सेवा का लाभ लेने के लिए आप www.blu-smart.com से अपनी कैब बुक कर लीजिए। फिलहाल इस सेवा को कंपनी ने दिल्ली-एनसीआर में शुरू किया है लेकिन इसके बाद कंपनी उन शहरों का रुख करेगी जहां सीएनजी की उपलब्‍धता कम है। तो आइए आपको बताते हैं इस खबर को विस्तार से।

चार्जिंग की टेंशन आपसे ज्यादा कंपनी को है
इलेक्ट्रिक कार में बैठने के बाद सबसे ज्यादा टेंशन होती है कि कहीं इसकी बैट्री न खत्म हो जाए। तो आपको बताते चलें कि कंपनी ने इसके लिए ऐसा सिस्टम डेवलप किया है जिसके अगर कार में 50 किमी की रेंज बची है तो वो बुक ही नहीं होगी। दिल्ली-एनसीआर में कंपनी ने 50 करोड़ के निवेश से 65 चार्जिंग स्टेशन बनाए हैं जिसमें एक साथ 20 कारें चार्ज हो सकती हैं। यानी कि हर कार के पांच किलोमीटर की परिधि में एक चार्जिंग स्टेशन स्‍थापित कर दिया गया है। आने वाले समय में जब कंपनी अपना कारों का लक्ष्य पूरा कर लेगी तो उसके बाद और चार्जिंग स्टेशन तैयार करेगी।

कंपनी की योजना
पहले फेज में कंपनी ने 70 ब्लू स्मार्ट कैब को नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम में शुरू किया है। 2019 के मार्च अंत तक लगभग 400 इलेक्ट्रिक कारें कंपनी रोड पर उतार देगी जिससे लोगों को इलेक्ट्रिक टैक्सी को बुक करने में दिक्कत न आए।

कौन सी इलेक्ट्रिक कारें होंगी
आपको बताते चलें कि जेनसोल मोबिलिटी ने महिंद्रा एंड महिंद्रा के साथ हाथ मिलाया है जिसके तहत कंपनी ने ई वेरीटो के टॉप वेरिएंट को इस सर्विस के लिए खरीदा है। इन कारों को कंपनी फिलहाल चुने हुए रूट ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम, मानेसर, व सोनीपत जैसे शहरों के लिए संचालित करेगी। बुकिंग के समय ही कस्टमर को राइड डेस्टीनेशन सेट करके पे करना होता है जिससे सेवा में कोई दिक्कत न आए।

हमेशा किराया रहेगा एक
कंपनी ने फिलहाल इस सेवा को 15 रुपये प्रति किलोमीटर के हिसाब से लॉन्‍च किया है। लेकिन ये किराया हमेशा यही रहेगा ऐसा नहीं मांग बढ़ने पर किराया बढ़ जैसा कि ओला व उबर में होता है। इसकी खास बात ये है कि टैक्‍सी बुक करते समय आप अपना फ्लाइट डिटेल इसमें मेंशन कर दें तो आपकी टैक्सी उस फ्लाइट को ट्रैक करके आपके पास हाजिर हो जाएगी।

फाउंडर का कहना
कंपनी के प्रमोटर अनमोल सिंह जग्गी ने बताया कि, ग्रीन और प्रदूषण मुक्त अस्तित्व मानव जीवन के लिए मंत्र है, इसलिए स्मार्ट और प्रदूषण मुक्त गतिशीलता कभी दूर नहीं हो सकती है। हम BLU-SMART में, दृढ़ता से मानते हैं कि अगली क्रांति इलेक्ट्रिक वाहनों में है और एक प्रौद्योगिकी संचालित संगठन होने के नाते, हमें इस गतिशीलता समाधान की पेशकश करने के लिए उद्यम करना था। हम मौजूदा ऐप-आधारित कैब सेवाओं के लिए एक प्रतियोगिता नहीं हैं, लेकिन उनके लिए एक मात्र ग्रीन विकल्प हैं। और हम आश्वासन देते हैं कि हमारे ड्राइवर सवारी को मना नहीं करेंगे।

वीडियो भी देखेंः-