सबसे ज्यादा डर उसे रहता है जो सबसे आगे रहता है। अगर कदम रुके तो कोई और आगे निकल जाएगा। लेकिन ऐसे में सबसे बड़ा अवसर उनके पास होता है जो पीछे से आगे निकलने की कोशिश कर रहे होते हैं। सामने वाला थोड़ा कमजोर पड़ा तो वह उससे जरूर आगे निकलेगा ये सोच सबसे आगे वाले के पीछे चलने वालों की होती है। ये बात मैं ऑटोमोबाइल की दुनिया के संदर्भ में बोल रहा हूं जहां आजकल गलाकाट कंपटीशन में कंपनियां वो सबकुछ कर रही हैं जो उनसे हो सकता है। जब लोगों ने स्कूटर को कूड़ा मान लिया उस समय हौंडा ने एक्टिवा का ऐसा जादू चलाया कि आज बाजार में ऑटोमेटिक स्‍कूटरों की न सिर्फ धूम मची हुई है बल्कि ये सेगमेंट लगातार तरक्की कर रहा है। मोटरसाइकिलों की बिक्री को चुनौती देते ऑटोमेटिक स्कूटरों में नई सनसनी है सुजुकी बर्गमैन की।
125 सीसी में ऑटोमेटिक स्कूटरों को मिलती सफलता में ये अब एक नया नाम जुड़ गया है। सुजुकी के पास अब इस सेगमेंट में दो स्कूटर हो गए हैं एक है एक्सेस और दूसरा कंपनी का पहला मैक्सी स्कूटर बर्गमैन स्ट्रीट। जिक्सर व इंट्रूडर की तरह बर्गमैन को खासतौर पर भारतीय बाजार के लिहाज से तैयार किया गया है। आइए आपको बताते हैं कि स्कूटर के बढ़ते बाजार में बर्गमैन स्ट्रीट क्या मायने रखता है। 
डिजाइन
मझे बर्गमैन की मैक्‍सी स्कूटर वाली स्टाइलिंग बेहद पसंद आई। सबसे पहले इस स्कूटर ने 2018 के ऑटो एक्सपो में अपनी झलक दिखाई थी। कुल मिलाकर ये अंतर्राष्ट्रीय बाजार की बड़े स्पेसीफिकेशन वाली सफल स्कूटर है जिसे भारतीय कंडीशन के हिसाब से थोड़ा आक्रामक अंदाज में पेश किया गया है। इस आक्रामकता का भुगतान इस स्कूटर को ज्यादा वजन के साथ चुकाना पड़ा जिसका असर परफॉर्मेंस पर पड़ा है और इसका जिक्र आगे करेंगे। लेकिन कुल मिलाकर यह ऐसा स्कूटर है जिसे देखने के लिए लोग आपकी तरफ मुड़ जाते हैं।
इसका बड़ा हेड फ्लाईस्क्रीन के साथ मैच खाता है यही नहीं सुजुकी के डिजाइनरों ने बेहद चतुराई के साथ एलईडी हेडलाइट और टर्न इंडीकेटर को इसके पैनल के साथ इंटीग्रेट किया है। इसकी सीट बेहद आरामदायक है, इसका बड़ा मफलर खूबसूरती के साथ स्कूटर के ओवरऑल डिजाइन को कांप्लीमेंट करता है। पीछे बैठे पिलियन राइडर के लिए बड़ा ग्रैब हैंडल और बढ़िया एलईडी टेल लाइट दी गई है। हालांकि पिछले टायर इसकी डिजाइन से तालमेल नहीं बिठा पाते लेकिन ये बात सिर्फ मैं दिखने के लिहाज से कह रहा हूं।
फीचर्स
इसके फीचर्स की बात करने से पहले मैं आपको इसके एलईडी हैडलैंप के बारे में बता दूं जो कि बहुत ही लाजवाब रोशनी प्रदान करते हैं। टू व्हीलर के अफोर्डेबल सेगमेंट की बात करें तो ये अब तक की सबसे बेस्ट एलईडी हेडलाइट है। इसके साथ ही बर्गमैन सुजुकी का पहला ऐसा स्कूटर है जिसमें पूरी तरह से डिजिटल इंस्ट्रूमेंट कंसोल दिया गया है। इसका ले आऊट साफ-सुथरा है जिसके चलते आप इसे आसानी से पढ़ सकते हैं।
इस स्पीडोमीटर में आपको मिलते हैं ओडोमीटर, दो ट्रिप मीटर, घड़ी और फ्यूल गेज। यही नहीं इस स्‍कूटर में सामान रखने की बहुत सारी जगहें दी गई हैं। इसमें आपको एक बड़ा स्टोरेज चाभी वाली जगह के ठीक नीचे दिया गया है जिसमें आप पूरे 2 लीटर की  बड़ी पानी की बोतल रख सकते हैं तो वहीं दूसरी ओर दिए गए कंपार्टमेंट में आप अपने जरूरी सामान रखकर बंद कर सकते हैं। लेकिन आप इसे लॉक नहीं कर सकते। एक्सेस की तरह सीट के नीचे 21.5 लीटर की जगह है जिसमें आप अपना फुल फेस हेलमेट आराम से रख सकते हैं। इसके साथ ही इसमें आपको एल्यूमिनियम का फुट पेग दिया गया है जो कि इसकी बॉडी के अंदर समा जाता है इससे इसका प्रीमियम अंदाज सामने आता है।
जैसे कि पहले जिक्र किया इसके पिछले टायर छोटे लगते हैं लेकिन ये बात भी सच हैं इंट्रूडर की तुलना में ये टायर काफी हद ठीक हैं। आपको बताते चलें कि इंट्रूडर में बाइक के बॉडी के हिसाब से टायर बेहद कमजोर नजर आते हैं।
परफॉर्मेंस
सबसे पहले इसके हैंडलिंग की बात करूंगा। जिस अंदाज में ये स्कूटर बना है उसका असर राइड क्वालिटी पर कहीं दिखाई नहीं देता। बारिश के बाद बने गड्ढों से गुजरने के दौरान स्कूटर सबकुछ संभाल लेता है और आपके शरीर तक गड्ढों का दर्द नहीं पहुंचने देता। ऐसा बहुत ही कम इंडियन स्कूटरों में पाया जाता है। स्कूटर को छोटी दूरी की यात्राओं के लिए परफेक्ट मानता हूं लेकिन बर्गमैन आपको लंबी दूरी की राइड पर भी निराश नहीं करेगी पर हां आपको बार-बार इसका टैंक जरूर भरवाना पड़ेगा क्योंकि टैंक क्षमता साढ़े पांच लीटर के आसपास ही है। इस स्कूटर पर बैठा पिलियन राइडर कभी आपसे शिकायत नहीं करेगा। अब बात इंजन की करते हैं। इसमें लगा हुआा 124 सीसी का इंजन 8.7 एचपी की शक्ति और 10.2 एनएम का टॉर्क देता है। शहरी कम्यूटिंग में ओवरटेकिंग इसके लिए चैलेंज नहीं है। मिड रेंज पावर जबर्दस्त है लेकिन टॉप स्पीड पर पहुंचकर ये तनाव में दिखाई देने लगती है। मुझे इस स्कूटर से लगभग 53 किमीप्रली का माइलेज मिला और यही माइलेज सुजुकी क्लेम करती है। सामने डिस्क ब्रेक और सीबीएस इस स्कूटर में स्टैंडर्ड हैं। मेरे जैसे छह फीट के व्यक्ति के लिए भी ये एक आरामदायक राइड प्रदान करती है।
हमारा फैसला
अगर आप स्कूटर में कुछ नया तलाश रहे थे तो ये आपकी खोज है जो अब पूरी हो गई है। अफोर्डेबल मैक्सी स्कूटर की एंट्री भारतीय बाजार में बर्गमैन स्ट्रीट के माध्यम से हो चुकी है। बर्गमैन वो सबकुछ करता है जो आपकी चाहत है। सुजुकी एक्सेस की तुलना में ये महंगा है लेकिन अपने अंदाज से वैल्यू क्रिएट करता है। 68 हजार रुपये एक्सशोरूम दिल्ली में इस स्कूटर को खरीदना एक स्टाइलिश सौदा होगा जिसे देखकर आपके मोहल्ले के लोग जरूर पूछने आएंगे ये कौन सा स्कूटर ले आए। लोगों की इसके प्रति उत्सुकता बताती है कि ये किस तरफ बढ़ रहा है। 125 सीसी सेगमेंट में मौजूदा समय में आठ स्कूटर हैं जिसमें ये मेरी पहली च्वाइस है।
स्पेसीफिकेशन
Engine Displ.: 124 cc
Power: 8.7 PS @ 7000 rpm
Mileage: 53.5 kmpl
No Of Gears: CVT
Fuel System: Carburetor
ABS: No
Head Lamp: LED
Wheels Type: Alloy
Tyre Type: Tubeless
Standard Warranty (Years): NA

वीडियो रिव्यू देखें और हमारे इस चैनल को सक्सक्राइव करेंः-