ये वाक्या है गाजियाबाद का, जहां रहने वाले अनुभव गुप्ता को ब्रेजा पसंद आई लेकिन उन्होंने खरीद ली मोटर्स की नेक्सॉन। अगर आप गाड़ी खरीदने की सोच रहे हैं तो ये कहानी आपको पसंद आ सकती है।