टाटा मोटर्स और निसान ने अपनी कारों की कीमत में 1 अप्रैल से कीमत बढ़ोत्तरी की घोषणा की है, आइए बताते हैं कि ये कंपनियां कितनी बढ़ाने जा रही हैं कारों की कीमतें।

मार्च महीना यानी कि वित्त वर्ष का अंतिम महीना बस खत्म होने को है। लेकिन इसमें सबसे बढ़िया अवसर उन कार खरीदारों के लिए है जो अभी तक गाड़ी नहीं खरीद पाए हैं। अभी कई कंपनियां गाड़ियों पर डिस्काउंट ऑफर कर रही हैं तो कई कंपनियों ने 1 अप्रैल से कीमत बढ़ोत्तरी का ऐलान कर दिया है। निसान अपने दोनों ब्रांड के सभी मॉडलों की कीमत में 2 फीसदी बढ़ोतरी होगी। निसान ब्रांड के तहत कंपनी माइक्रा, सनी और टेरानो गाड़ियां बेचती हैं जिनकी कीमत 4.65 लाख रुपये (एक्स-शोरूम, दिल्ली) से शुरू होती है। डैटसन के तहत कंपनी गो, गो प्लस और रेडी गो जैसी गाड़ियां ऑफर करती हैं जिनकी कीमत 3.31 लाख रुपये से दिल्ली में शुरू होती है।

कंपनी ने घोषणा की है इनपुट कास्ट बढ़ने के वजह से कंपनी ये बढ़ोत्तरी कर रही है। निसान मोटर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर जरोम सैगट ने बताया कि इनपुट कॉस्ट में बढ़ोतरी के कारण वे निसान और डैटसन ब्रैंड की अपनी गाड़ियों के दाम 1 अप्रैल, 2018 से बढ़ा रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर टाटा मोटर्स ने भी अपनी गाड़ियों के दाम बढ़ाने की घोषणा की है। टाटा मोटर्स की गाड़ियों के दाम 60,000 रुपये बढ़ेंगे। इसके अलावा पिछले हफ्ते लग्जरी कार निर्माता कंपनी आउडी ने अपनी गाड़ियों में एक लाख से 9 लाख रुपये तक की बढ़ोतरी करने की घोषणा कर दी है। ये बढ़ोत्तरी कंपनी 1 अप्रैल से लागू करने जा रही है। टाटा मोटर्स ने पैसेंजर वाहनों की कीमत 60,000 रुपये तक बढ़ाने का फैसला किया है। नई कीमत एक अप्रैल से लागू होगी। कंपनी का कहना है कि बढ़ी लागत खर्च की भरपाई के लिए यह कदम उठाया गया है। कंपनी की पैसेंजर वीइकल कैटिगरी में2.28 लाख रुपये की जेनएक्स नैनो से लेकर17.42 लाख रुपये वाली एसयूवी हेक्सा शामिल हैं। टाटा मोटर्स के अध्यक्ष( पैसेंजर वीइकल) मयंक पारीक ने कहा, ‘बढ़ी लागत खर्च, बाजार की बदलती परिस्थितियों और विभिन्न बाहरी आर्थिक कारकों ने हमें कीमत बढ़ाने पर विचार करने के लिए मजबूर किया।’

साथ ही आपको ये भी बताते चलें कि प्रीमियम कार निर्माता कंपनी ऑडी ने अपनी गाड़ियों में एक लाख से 9 लाख रुपये तक की बढ़ोतरी करने की घोषणा की थी। इसके अलावा उम्मीद की जा रही है कि कुछ और कार कंपनियां जल्द ही अपनी गाड़ियों की कीमत में बढ़ोत्तरी की घोषणा कर सकती हैं।